सामूहिक राष्ट्रगान (वन्देमातरम का हिन्दी-काव्यानुवाद)

From Wikisource
Jump to: navigation, search
सामूहिक राष्ट्रगान
(वन्दे मातरम् का हिन्दी-काव्यानुवाद)
 (1992) 
by मदनलाल वर्मा 'क्रान्त'
It is a Hindi translation of the Vande Mataram (Complete song) written by Bankim Chandra Chattopadhyay. This Hindi translation was published in 1992 in the book Archana written by 'Krant' M. L. Verma.[1]

सामूहिक राष्ट्रगान[edit]

(वन्दे मातरम का हिन्दी-काव्यानुवाद)
जलवायु अन्न सुमधुर, फल फूल दायिनी माँ!, धन धान्य सम्पदा सुख,गौरव प्रदायिनी माँ!!
शत-शत नमन करें हम, हे मातृभूमि भारत!

यह छवि स्वमन धरें हम, हे मातृभूमि भारत! तुझको नमन करें हम, हे मातृभूमि भारत!!
हे मातृभूमि भारत! हे पितृभूमि भारत!!

कसकर कमर खड़े हैं, हम कोटि सुत तिहारे। क्या है मजाल कोई, दुश्मन तुझे निहारे।।
अरि-दल दमन करें हम, हे मातृभूमि भारत! तुझको नमन करें हम, हे मातृभूमि भारत!!
हे मातृभूमि भारत! हे पितृभूमि भारत!!

तू ही हमारी विद्या, तू ही परम धरम है। तू ही हमारा मन है, तू ही वचन करम है।।
तेरा भजन करें हम, हे मातृभूमि भारत! तुझको नमन करें हम, हे मातृभूमि भारत!!
हे मातृभूमि भारत! हे पितृभूमि भारत!!

तेरा मुकुट हिमालय, उर-माल यमुना-गंगा। तेरे चरण पखारे, उच्छल जलधि तरंगा।।
अर्पित सु-मन करें हम, हे मातृभूमि भारत! तुझको नमन करें हम, हे मातृभूमि भारत!!
हे मातृभूमि भारत! हे पितृभूमि भारत!!

गुंजित गगन करें हम, हे मातृभूमि भारत! तुझको नमन करें हम, हे मातृभूमि भारत!!
हे मातृभूमि भारत! हे पितृभूमि भारत!!

ऐसा मनन करें हम, हे मातृभूमि भारत! तुझको नमन करें हम, हे मातृभूमि भारत!!
हे मातृभूमि भारत! हे पितृभूमि भारत!!

सन्दर्भ[edit]

  1. 'Krant 'M.L.Verma Archana page 20-21
  • 'Krant' M.L.Verma Archana 1992 Noida 201301 (India) Kimva Prakashan.