हिन्द स्वराज

From Wikisource
Jump to: navigation, search
मोहनदास करमचन्द गांधी


हिन्द स्वराज


अनुवादक : अमृतलाल ठाकोरदास नाणावटी

First publication was in 1921. This text is in the public domain in the India and USA, but not (yet) in Europe.

निवेदन (काका कालेलकार)[edit]

दो शब्द (काका कालेलकार)[edit]

नई आवृत्तिकी प्रस्तावना (महादेव हरिभाई देसाई)[edit]

उपोद्घात (महादेव हरिभाई देसाई)[edit]

सन्देश[edit]

जिन सिद्धान्तोके समर्थन के लिए ’हिन्द स्वराज’ लिखी गयी थी, उन सिद्धान्तोंकी आप जाहिरात करना चाहती हैं, यह मुझे अच्छा लगता है। मूल पुस्तक गुजरातीमें लिखी गई थी ; अंग्रेजी आवृत्ति गुजरातीका तरजुमा है।


सेवाग्राम, १४-७-१९३८
मोहनदास करमचन्द गांधी

’हिन्द स्वराज’ के बारेमें[edit]

जनवरी १९२१
मोहनदास करमचन्द गांधी

प्रस्तावना[edit]

किलडोनन कैसल, २२-११-१९०९
मोहनदास करमचन्द गांधी

हिन्द स्वराज[edit]

  1. कांग्रेस और उसके कर्ता-धर्ता
  2. बंग-भंग
  3. अशांति और असन्तोष
  4. स्वराज क्या है ?
  5. इंग्लैंडकी हालत
  6. सम्यताका दर्शन
  7. हिन्दुस्तान कैसे गया ?
  8. हिन्दुस्तानकी दशा-१
  9. हिन्दुस्तानकी दशा-२
  10. हिन्दुस्तानकी दशा-३
  11. हिन्दुस्तानकी दशा-४
  12. हिन्दुस्तानकी दशा-५
  13. सच्ची सम्यता कौनसी ?
  14. हिन्दुस्तान कैसे आज़ाद हो ?
  15. इटली और हिन्दुस्तान
  16. गोला-बारूद
  17. सत्याग्रह − आत्मबल
  18. शिक्षा
  19. मशीनें
  20. छुटकारा

परिशिष्ट-१[edit]

परिशिष्ट-२[edit]

यह भी देखिए[edit]